इलेक्ट्रोनिक सिटी से लेकर फूड फेस्टिवल तक 5 साल में 20 लाख नौकरियां

नई दिल्ली : दिल्ली में शनिवार को वित्त मंत्री मनीष सिसोदिया ने बजट पेश किया। सिसोदिया ने कहा कि वित्त वर्ष 2022-23 के लिए दिल्ली का बजट ‘रोजगार बजट’ है। उन्होंने कहा कि अगले पांच साल में 20 लाख नई नौकरियां पैदा की जाएंगी। उप मुख्यमंत्री ने कहा कि दिल्ली की अर्थव्यवस्था कोविड-19 के मार से धीरे-धीरे उबर रही है। वित्त मंत्री मनीष सिसोदिया ने वित्त वर्ष 2022-23 के लिए 75,800 करोड़ रुपये का बजट पेश किया। वित्त वर्ष 2022-23 के लिए दिल्ली के बजट में नगर निकायों को 6,154 करोड़ रुपये आवंटित किए गए। आगामी पांच साल में दिल्ली में कामकाजी आबादी 33 प्रतिशत से बढ़कर 45 प्रतिशत हो जाएगी। वित्त मंत्री ने कहा कि हमारी सरकार सत्ता में आने से पहले दिल्ली का बजट 30,940 करोड़ रु.था और मैंने जून 2015 में 41,149 करोड़ रु.का अपना पहला बजट पेश किया था। उन्होंने कहा कि आज मुझे खुशी हो रही कि 2022-2023 के लिए मैं 75,800 करोड़ रुपये का बजट पेश कर रहा हूं।

शिक्षा क्षेत्र के लिए 16 हजार 278 करोड़ रुपये
दिल्ली सरकार ने बजट में शिक्षा के लिए 16,278 करोड़ रुपये आवंटित किए। बजट में राजधानी के चिराग दिल्ली एरिया में स्कूल साइंस म्यूजियम बनाने का प्रस्ताव है। इसके अलावा बेघर बच्चो के बोर्डिंग स्कूल के लिए 10 करोड़ रुपये का भी प्रावधान किया गया है। वहीं, अनधिकृत कॉलोनियों में नालों, गलियों, पानी की आपूर्ति के लिए 1,300 करोड़ रुपये आवंटित किए गए। सिसोदिया ने कहा कि दिल्ली में स्मार्ट शहरी खेती को बढ़ावा दिया जाएगा।, पूसा संस्थान के सहयोग से इसे जन आंदोलन में बदला जाएगा। इससे 25,000 रोजगार सृजित होने की उम्मीद है। सिसोदिया ने कहा कि हम अगले 5 वर्षों में रिटेल सेक्टर में 3 लाख रोजगार और अगले 1 वर्ष में 1.20 लाख से अधिक नए रोजगार के अवसर पैदा करने की उम्मीद करते हैं।

हेल्थ सेक्टर के लिए 9669 करोड़ रुपये
दिल्ली के बजट में इस बार हेल्थ सेक्टर पर खास ध्यान दिया गया है। वित्त मंत्री मनीष सिसोदिया ने हेल्थ सेक्टर के लिए 9,669 करोड़ रुपये आवंटित किए। बजट में बताया गया कि मोहल्ला क्लीनिक और पॉलीक्लिनिक के लिए 475 करोड़ रुपये आवंटित किए गए हैं। इसके अलावा दिल्ली सरकार के अस्पतालों को अपग्रेड करने के लिए 1,900 करोड़ रुपये का प्रावधान है।

100 करोड़ से विकसित होंगे पांच मशहूर बाजार
सिसोदिया ने कहा कि दिल्ली में नया इलेक्ट्रॉनिक शहर स्थापित किया जाएगा। वित्त मंत्री ने कहा कि 10 डेढ़ लाख नौकरियां पैदा करने के लिए दिल्ली में पांच प्रसिद्ध बाजारों को विकसित किया जाएगा। इसके लिए 100 करोड़ रुपये आवंटित किए गए। ‘दिल्ली शॉपिंग फेस्टिवल’ में खुदरा बाजार को बढ़ावा देने, ‘दिल्ली होलसेल शॉपिंग फेस्टिवल’ से थोक बाजार को बढ़ावा देने का प्रस्ताव है। शॉपिंग फेस्टिवल से पर्यटकों की संख्या 4 लाख तक बढ़ने का अनुमान है। इन क्षेत्रों में कार्यरत 12 लाख लोगों को फायदा मिलने की उम्मीद है।

1.78 लाख लोगों को दी सरकार में नौकरियां
दिल्ली का बजट पेश करते हुए वित्त मंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि पिछले 7 साल में सात बजट के फलस्वरूप दिल्ली सरकार के विभिन्न विभागों और संस्थानों में 1 लाख 78 हजार से ज्यादा युवाओं को सरकार में नौकरी दी गई है। इसमें से 51 हजार 307 नौकरियां पक्की सरकारी नौकरियां हैं। ये नौकरियां दिल्ली अधीनस्थ सेवा चयन बोर्ड के तहत दी गई हैं। इसके अलावा दिल्ली सरकार की यूनिवर्सिटीज में 2500 से अधिक नौकरियां दी गई हैं। इसके अलावा अस्पतालों में करीब तीन हजार से अधिक पक्की नौकरी दी गईं। सिसोदिया ने कहा कि 7 साल के दौरान 25 हजार से अधिक युवाओं को गेस्ट टीचर के रूप में रखा गया। मनीष सिसोदिया ने कहा कि इससे पहले की सरकारों में करीब 9 साल तक ना के बराबर नौकरी दी गई। पिछली सरकारों ने नौकरी देने का डीएसएसबी का परीक्षा तंत्र को बिल्कुल ठप करके रखा हुआ था।

24 घंटे आ रही बिजली, 75% घरों का बिजली बिल जीरो
सिसोदिया ने कहा कि आज दिल्ली में पिछले सात साल में विभिन्न क्षेत्रों में विकास हुआ। अब यहां 24 घंटे बिजली आ रही है। 75 फीसदी घरों में बिजली का बिल जीरो आ रहा है। दिल्ली में मेट्रो लाइन का विस्तार हुआ है। दिल्ली की गली-गली में सीसीटीवी कैमरे लगाए हैं। सरकार ने महिला सुरक्षा की दिशा में अभूतपूर्व कदम उठाए गए हैं। सिसोदिया ने कहा कि युवाओं के लिए फ्री वाई-फाई नेटवर्क उपलब्ध कराया गया है। सिसोदिया ने कहा कि पिछले 7 साल के बजट में अंतरराष्ट्रीय स्तर की खेल सुविधाएं विकसित की गई हैं। सिसोदिया ने कहा कि दिल्ली में व्यापार के लिए जीरो टैक्स, जीरो रेड पॉलिसी लागू की गई। ईज ऑफ डूइंग बिजनस की सुविधा दी गई। उन्होंने कहा कि दिल्ली में ईमानदार सरकार काम कर रही है।

बजट की खास बातें

  • हेल्थ सेक्टर के लिए 9,669 करोड़ रुपये आवंटित
  • मोहल्ला क्लीनिक और पॉलीक्लिनिक के लिए 475 करोड़ रुपये खर्च होंगे
  • अस्पतालों को अपग्रेड करने के लिए 1,900 करोड़ रुपये का प्रावधान
  • दिल्ली के बापरोला में नया इलेक्ट्रॉनिक शहर स्थापित किया जाएगा
  • दिल्ली सरकार ने शिक्षा के लिए 16,278 करोड़ रुपये आवंटित किए
  • चिराग दिल्ली में बनेगा साइंस म्यूजियम, बेघर बच्चों के लिए बोर्डिंग स्कूल
  • अनधिकृत कॉलोनियों में नालों, गलियों, पानी की आपूर्ति के लिए 1,300 करोड़ रुपये
  • पूसा संस्थान के सहयोग स्मार्ट शहरी खेती को बढ़ावा दिया जाएगा
  • दिल्ली शॉपिंग फेस्टिवल और दिल्ली होलसेल शॉपिंग फेस्टिवल आयोजित होगा
  • दिल्ली के 5 बाजारों को किया जाएगा डेवलप, 100 करोड़ रुपये आवंटित
  • रोजगार बाजार के लिए 20 करोड़ रुपये, 10 लाख वेंडरों को होगा फायदा
  • दिल्ली के प्राइवेट स्कूलों में शुरू होगा बिज़नेस ब्लास्टर प्रोग्राम
  • दिल्ली में हर साल इंटरनेशनल फ़िल्म फेस्टिवल आयोजित होगा
  • बस डिपो और टर्मिनल्स में कई जगह पर शॉपिंग, फूड हब्स होंगे
  • नई स्टार्टअप नीति लागू करने के लिए बजट में ₹50 करोड़ का प्रावधान
Search Khabar [ सच का सर्च सच के साथ,सर्च खबर आपके पास ]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Become a Journalist
Feedback/Query