4 लोग हत्या में शामिल,जल्द होंगे गिरफ्तार : योगेंद्र कुमार, एसपी, बेगूसराय

बेगूसराय। बखरी थाना क्षेत्र के परिहारा ओपी अंतर्गत सांखू गांव निवासी युवा पत्रकार सुभाष कुमार की शुक्रवार देर शाम गांव में ही अपराधियों ने गोली मारकर हत्या कर दी है। घटना के सम्बंध में बताया जाता है कि गांव के ही कुछ अपराधियों ने देर शाम लगभग पौने आठ बजे सुभाष कुमार को घर के निकट ही किसी बहाने से बुलाकर गोली मार दी।

सुभाष कुमार के सिर में गोली मारी गई है। गोली की आवाज़ सुनकर जबतक लोग कुछ समझते अपराधियों ने सुभाष कुमार पर ताबड़तोड़ फायरिंग कर भाग निकले। घटना के बाद आनन-फ़ानन में ग्रामीणों द्वारा गोली से घायल पत्रकार को बखरी स्थित प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र लाया गया। मगर यहां ड्यूटी पर तैनात डॉक्टर ने सुभाष कुमार को मृत घोषित कर दिया।

मृतक पत्रकार की पहचान बखरी परिहारा ओपी थाना क्षेत्र के सांखों गांव के रहने वाले पत्रकार सुभाष कुमार के रूप में की गई है. इस घटना के बाबत मिली जानकारी के मुताबिक, सुभाष कुमार एक न्यूज़ चैनल के लिए काम कर रहे थे. रिपोर्ट्स के अनुसार, किसी खबर को चलाने को लेकर भी इस घटना को अंजाम देने की बात सामने आ रही है. मामला बालू और शराब माफियाओं से भी जोड़कर देखा जा रहा है.

पत्रकारों में गुस्सा : इस घटना को लेकर स्थानीय पत्रकारों में काफी गुस्सा देखा जा रहा है. उनका कहना है कि अगर पत्रकार पर इस तरह से हमले होंगे फिर कैसे काम चलेगा. बता दें कि इससे पहले भी राज्य में कई जगहों पर पत्रकारों की हत्या हो चुकी है. हाल की बात करें तो कुछ महीने पहले मधुबनी में हुए अविनाश झा उर्फ बुद्धिनाथ क्षा हत्याकांड ने काफी तूल पकड़ा था.

इस अप्रत्याशित घटना से सांखू और आसपास के लोग दहशत में हैं। खबर लिखे जाते समय बखरी-परिहारा पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए बेगूसराय सदर अस्पताल भेजने की प्रक्रिया में थी। पत्रकार सुभाष कुमार की हत्या पर जिला पत्रकार संघ के अध्यक्ष विनोद कुमार कर्ण, महासचिव सौरभ कुमार व कोषाध्यक्ष प्रशांत कुमार, बखरी अनुमंडल पत्रकार संघ के अध्यक्ष सुमन झा, प्रशांत सोनी, पूर्व अध्यक्ष राजेश अग्रवाल, अमरनाथ पाठक, गौरव कुमार, उम्र खान, अमित पोद्दार, विकास मिश्रा, अमित परमार, कोमल आर्य, संजीव आर्य आदि ने घोर निन्दा की है और पत्रकार सुभाष कुमार के हत्यारे को अविलंब गिरफ्तार करने की मांग पुलिस अधीक्षक से की है।

इस बीच जन पहल के संयोजक विकास वर्मा ने अपराधियों द्वारा पत्रकार सुभाष कुमार की नृशंस हत्या की घोर निंदा की है। जन पहल ने प्रेस बयान जारी कर कहा है कि सुभाष कुमार की हत्या बिहार में और खासतौर पर बेगूसराय जिला में अपराधियों के बढ़ते मनोबल का परिणाम है।

जन पहल ने बेगूसराय के पुलिस अधीक्षक से अपराधियों की अविलंब गिरफ्तारी और स्पीडी ट्रायल चलाकर सजा दिलाने की मांग की है। जारी बयान में कहा गया है कि पत्रकार सुभाष कुमार ग्रामीण क्षेत्रों में सच की आवाज़ को बुलंद कर रहे थे, जिस कारण अपराधियों में दहशत था। इसी कारण इस प्रकार कायरतापूर्ण तरीके से सुभाष कुमार की हत्या की गई है। इधर झारखण्ड के पत्रकारों ने भी पत्रकार ह्त्याकांड की घोर निंदा की है और लोकतंत्र के चौथे स्तम्भ पर कायराना हमला बताया है। “न्यूज मक्रांंत” वेबसाइट के सम्पादक गोपाल शर्मा ने इस घटना की घोर भर्त्सना करते हुए बिहार के सुशासन सरकार की नाकामी बताया है। वही जामताड़ा से सर्च खबर के सम्पादक विनोद सर्चर ने इसकी तीव्र निंदा करते हुए अपराधियो की जल्द गिरफ्तारी की मांग की है। निंदा करने वालो में शिव रंजन, प्रेम रंजन, महेश कुमार, अभिषेक कुमार, नरेश सुमन, प्रो रामनन्दं सिंह, अमित सोनी, शेखर पंडित आदि शामिल है।

”चार लोगों को हत्या में शामिल होने की पहचान की गई है. 3-4 कारण मुख्य रूप से सामने आए हैं. सभी बिंदुओं पर जांच की जा रही है. बखरी डीएसपी के नेतृत्व में एक स्पेशल टीम बनाई गई है. जल्द ही सभी बदमाशों को गिरफ्तार कर स्पीडी ट्रायल चलाकर सजा दिलाने का काम पुलिस करेगी. वैसे इस घटना में जो भी लोग शामिल हैं उनका गांव दूर नहीं है, आसपास के ही लोग हैं. सभी की पहचान हो चुकी है और उनकी गिरफ्तारी भी जल्द की जाएगी.”- योगेंद्र कुमार, एसपी, बेगूसराय

Search Khabar [ सच का सर्च सच के साथ,सर्च खबर आपके पास ]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Become a Journalist
Feedback/Query