अनिरुद्ध प्रसाद यादव (42) की मौत से आक्रोशित भीड़ ने एक हवलदार को कुचलकर मार डाला

बेतिया : प.चंपारण के बलथर थाना के आर्यानगर से डीजे बजाने के आरोप में हिरासत में लिये गये अनिरुद्ध प्रसाद यादव (42) की मौत से आक्रोशित भीड़ ने एक हवलदार को कुचलकर मार डाला। पुलिस सर में गोली मारकर हवलदार की हत्या का आरोप भीड़ पर लगा रही है। हमलावर भीड़ ने थाने में आग लगाने के साथ साथ दो इंसास रायफल लूट लिया है। एक दमकल के साथ आधा दर्जन गाड़ियों को आग के हवाले कर दिया गया। थाने को पूरी तरह से तहस नहस कर दिया गया है और एक भी कागजात सुरक्षित नहीं है। घटना में आधा दर्जन पुलिसकर्मी घायल हुए हैं जिन्हें इलाज के लिए बेतिया जीएमसीएच में भर्ती कराया गया है।

बेतिया में आज रविवार को भी काफी तनाव है जिसे देखते हुए पूरे बलथर इलाके में पुलिस बल भर कर छावनी में तब्दील कर दिया गया है। एसपी उपेन्द्र नाथ वर्मा खुद हालात को संभालने के लिए बलथर में कैम्प कर रहे हैं।

 जिला मुख्यालय से 35 किलोमीटर दूर शनिवार की दोपहर पुलिस कस्टडी में अनिरुद्ध यादव की मौत हो गयी। पुलिस ने मधुमक्खी के काटने से अनिरुद्ध की मौत की बात कही तो ग्रामीणों का आक्रोश टूट पड़ा। आक्रोशितों ने हरवे हथियार से लैस होकर थाने में हमला बोल दिया। इस दौरान पुरुषोतमपुर थाने में तैनात हवलदार रामजतन राय (50) की मौत सिर में लगे गंभीर जख्म से हो गयी। पुलिस का कहना है कि रामजतन राय के सिर में गोली मारी गयी है।

दो इंसास की लूट, सिपाही को मारी गोली

घटना के दौरान दो इंसास रायफलों को गोली समेत लूट लिया गया है। जबकि पुरुषोतमपुर थाने के सिपाही पप्पु कुमार शर्मा (30) गोली लगने से जख्मी हो गये। पप्पु के साथ साथ सिकटा थाने के वाहन के चालक सिपाही पारस यादव(50), ब्रजेंद्र कुमार शर्मा(52), शिवेंद्र पंड़ित(32), चंदन कुमार(35), बलथर थाना के हवलदार राजेंद्र प्रसाद सिंह (50)जख्मी हो गये है। ब्रजेंद्र कुमार शर्मा एवं शिवेंद्र पंड़ित की लोडेड इंसास रायफल हमलावरों ने छिन ली है। घायलों को जीएमसीएच में भर्ती कराया गया है।


डीजे संचालक का चैकिदार से चल रहा था विवाद

दरअसल शनिवार को आर्यनगर में होली के अवसर पर डीजे पर गीत बजाकर लोग नाच गान कर रहे थे। इसी दौरान बलथर पुलिस मौके पर पहुंची गई। पुलिस  डीजे को बंद करवा दिया और डीजे संचालक अनिरुद्ध प्रसाद यादव को हिरासत में ले लिया।

पुलिस टीम अनिरुद्ध को लेकर थाना चली गयी। थोड़ी देर बाद अनिरुद्ध को लेकर पुलिस के अधिकारी ग्रामीण चिकित्सक के यहां पहुंचे। चिकित्सक ने बताया कि अनिरुद्ध की मौत हो चुकी है। तब पुलिस अनिरुद्ध को लेकर वहां से जाने लगी। इसी बीच मौत की सूचना ग्रामीणों को मिल गई और उनलोगो ने पुलिस टीम को घेर लिया। पुलिस टीम वहां से भागकर थाना पहुंच गयी। स्थानीय चैकिदार से डीजे संचालक के परिवार का पहले से विवाद चल रहा था। परिजनों का कहना था कि चैकिदार के इशारे पर मारपीट कर अनिरुद्ध की हत्या कर दी गयी है। जब यह बात ग्रामीणों को मालूम चली तो लोगो का आक्रोश फुट पड़ा। लोगो ने थाने पर हमला बोल दिया। वहां मौजूद चार गाड़ियों में आग लगा दी। इस बीच में थाने के सिरिस्ता में रखे उपस्करों व कागजातों को लोगो ने नष्ट कर दिया।

आवासीय परिसर में घुसकर आगजनी

थाने के आवासीय परिसर में घूसकर पुलिसकर्मियों की पिटाई की गई। पुलिस वाले जान बचाकर भाग खड़े हुए। भीड़ ने पुलिस इंस्पेक्टर की गाड़ी में भी आग लगा दी। आग लगने से थाने परिसर में एक पेड़ पर लगा मधुमक्खी का छता धुंए के चपेट में आ गया। मधुमक्खियां भड़क गयी। तब वहां से लोग गिरते पड़ते फरार हुए। इसके बाद पुलिसकर्मियों की जान बची। कई पुलिसकर्मी अपने परिजनों के साथ थाने में रह रहे थे। वे लोग भी परिवार समेत जान बचाकर भाग निकले।

तनाव व्याप्त, छावनी बना बलथर

आज रविवार को भी घटना को लेकर काफी तनाव है। भारी संख्या में पुलिस बल को बलथर में भर दिया गया है। एसपी उपेन्द्र नाथ वर्मा खुद कैम्प कर रहे हैं। एसपी यूएन वर्मा ने बताया है कि मधुमक्खी के काटने से अनिरुद्ध यादव की मौत हुई है। एसपी ने कहा है कि हालात को काबू में करने के लिए पुलिस तत्परता से जुटी है। मामले की जांच चल रही है।

Search Khabar [ सच का सर्च सच के साथ,सर्च खबर आपके पास ]

One thought on “अनिरुद्ध प्रसाद यादव (42) की मौत से आक्रोशित भीड़ ने एक हवलदार को कुचलकर मार डाला

  • Pingback:अनिरुद्ध प्रसाद यादव (42) की मौत से आक्रोशित भीड़ ने एक हवलदार को कुचलकर मार डाला - News-Makrant

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Become a Journalist
Feedback/Query