अनमोल वचन –

मातृदिवस पर मातृवंदना

व्याधिमुक्त संसार व्याधिमुक्त संसार करूँ क्यों हे स्वार्थीनर.पागल होकर आज जोड़ता है दोनोंकर.कल तक तो तुमने मेरा अस्तित्वनकारा.फिर क्यों तुमने

Read more
Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Become a Journalist
Feedback/Query