विधायक डेप्‍युटी CM चुनेंगे सिराथू के वोटर नहीं

लखनऊ : यूपी विधानसभा चुनाव में सूबे के डेप्युटी सीएम केशव प्रसाद मौर्य जिस विधानसभा सीट से चुनाव लड़ रहे हैं, वहां उनके मुकाबले समाजवादी गठबंधन ने पल्लवी पटेल को चुनाव मैदान में उतार रखा है। पल्लवी पटेल का राजनीतिक परिचय यह है कि वह अपना दल के संस्थापक अध्यक्ष रहे सोनेलाल पटेल की बेटी और केंद्रीय मंत्री अनुप्रिया पटेल की बड़ी बहन हैं। पिता की राजनीतिक विरासत को लेकर परिवार में हुए बंटवारे ने दोनों बहनों को दो अलग-अलग पालों में कर दिया है। अनुप्रिया बीजेपी के सहयोगी के रूप में एनडीए का हिस्सा हैं तो पल्लवी एसपी के सहयोगी के रूप में समाजवादी गठबंधन का हिस्सा हैं।

पल्लवी के इस वक्त चर्चा में होने की वजह सिर्फ यह नहीं है कि वह केशव प्रसाद मौर्य के खिलाफ चुनाव लड़ रही हैं। उनकी चर्चा इसलिए ज्यादा हो रही है कि समाजवादी गठबंधन की चुनावी सभाओं में उन्हें भावी डेप्युटी सीएम कह कर संबोधित किया जा रहा है। बताया जाता है कि केशव प्रसाद मौर्य के रणनीतिकारों ने जब मतदाताओं के बीच यह सवाल उछाला कि उन्हें तय करना होगा कि वे डेप्युटी सीएम चुनना पसंद करेंगे या एक विधायक, तो समाजवादी गठबंधन के रणनीतिकारों को लगा कि राजनीतिक कद की लड़ाई में कहीं पल्लवी पटेल पीछे न हो जाएं।इसके मद्देनजर उस विधानसभा सीट पर समाजवादी गठबंधन के प्रचार अभियान में कहा जाने लगा कि ‘सिराथू के मतदाता डेप्युटी सीएम ही चुनेंगे, लेकिन केशव मौर्य को नहीं बल्कि पल्लवी पटेल को। डेप्युटी सीएम को हराकर जो विधानसभा पहुंचेगा, उसको डेप्युटी सीएम तो बनाया ही जाएगा।’ इस पर अखिलेश यादव की अभी तक कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है लेकिन केशव मौर्य के साथ चुनावी मुकाबले में पल्लवी पटेल ने अपना दावा तो मजबूत कर ही लिया है। वैसे गठबंधन से दो और चेहरे- जयंत चौधरी और ओमप्रकाश राजभर पहले से ही डेप्युटी सीएम के दावेदार बताए जाते हैं।

Search Khabar [ सच का सर्च सच के साथ,सर्च खबर आपके पास ]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Become a Journalist
Feedback/Query