जिले के कामगारों को आत्मनिर्भर और सशक्त बनाने का माध्यम बनेगा लघु कुटीर उद्योग – हफीजुल हसन

देवघर : 73वें गणतंत्र दिवस के अवसर पर केकेएन स्टेडियम में आयोजित मुख्य समारोह में माननीय मंत्री हफीजूल हसन अल्पसख्यंक कल्याण, पर्यटन, कला संस्कृति, खेल-कूद एवं युवा कार्य, निबंधन विभाग, झारखण्ड सरकार द्वारा झण्डोतोलन किया गया। इस दौरान माननीय मंत्री ने सभी को संबोधित करते हुए कहा कि 73वें गणतंत्र दिवस के शुभ अवसर पर शताब्दियों के परतंत्रता के उपरांत भारत 15 अगस्त, 1947 को स्वतंत्र हुआ था। स्वतंत्र देश के कर्णधारों के बहुमूल्य सहयोग से भारत के नवीन संविधान को लागू किया गया। तभी से महामहिम राष्ट्रपति को स्वतंत्र भारत के लिये सर्वोच्च शासक का दर्जा दिया गया एवं उक्त तिथि को आज ही के दिन 72 वर्ष पूर्व हिन्दुस्तान के संविधान को प्रभावी किया गया था।
26 जनवरी,1950 को भारत पूर्णरूपेण गंणतंत्र राज्य घोषित कर दिया गया एवं इसी दिन हम पूर्ण रूप से स्वाधीन हो गए। उस दिन लार्ड माउण्टवेटन (गर्वनर जनरल) के स्थान पर डॉ0 राजेन्द्र प्रसाद हमारे इस स्वतंत्र राष्ट्र के प्रथम राष्ट्रपति बने। विश्व के सबसे बडे लोकतांत्रिक देश भारतवर्ष के संविधान निर्माणकर्त्ता, बाबा भीम राव अम्बेदकर देश के स्वतंत्रता संग्राम में खून-पसीना बहाने वाले सभी शहीदों का सतत् नमन।
‘‘अलग-अलग प्रांत, अलग-अलग भाषा – किन्तु अपना एक भारतबर्ष देश’’। यह अनेकता में एकता का दर्शन इस गणतंत्र दिवस के अवसर पर हम भारतवासियों को होता है।

इसके अलाव माननीय मंत्री हफीजूल हसन ने कहा कि आप अवगत है कि वर्ष 2020 वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के प्रकोप से आंरभ हुआ एवं बर्ष 2021 के दौरान कोविड-19 के द्वितीय लहर कोे झेलने के उपरंात वर्त्ततान में बर्ष 2022 के आंरभ से ही कोविड-19 के तृतीय लहर से झारखण्ड राज्य सहित पूरा भारतबर्ष प्रभावित है। लगातार तीन बर्षो से इस संक्रमण के प्रसार के रोकथाम हेतु हेतु राज्य सरकार सहित केन्द्र सरकार की सजगता एवं संवेदशीलता का ही सकारात्मक परिणाम है कि योजनावद्ध तरीके से आज हम इस महामारी के चंगुल से बाहर निकलने एवं सहज होने का प्रयास कर रहे हैं। यह सत्य है कि वर्त्तमान में हम इस महामारी से शत-प्रतिशत मुक्त नहीं हेा सके है। किन्तु, इसके रेाकथाम हेतु व्यापक पैमाने पर चरणवद्ध तरीके से टीकाकरण कार्यक्रम सरकार द्वारा गत बर्ष से ही आंरभ किया गया है एवं इसका यह परिणाम है कि इस महामारी से हम अपने आपको सुरक्षित महसूस कर रहे है। देवघर जिला में इस महामारी के संक्रमण के प्रसार को रोकने एवं इसके प्रकोप के रेाकथाम हेतु निरंतर चरणवद्ध तरीके से योजनाबद्ध होकर कारगर कार्रवाई की जा रही है, जिसकी संकलित विवरणी निम्न प्रकार है-

(1) कोविड टीकाकरणः- जिलान्तर्गत 18 बर्ष से अधिक उम्र के 8.54 लाख (81प्रतिशत) लोगाों को कोविड-19 के प्रथम डोज का टीकाकरण किया जा चुका है। 18 बर्ष से अधिक उम्र के 5.40 लाख (49 प्रतिशत) लोगों को दूसरा डोज का टीकाकरण किया गया है। इसके अतिरिक्त 15-17 बर्ष तक के लगभग 50 हजार (25ः) नवयुवक/नवयुवतियों को कोविड-19 का प्रथम डोज का टीकाकरण किया गया है। साथ ही लगभग 04 हजार लागों को प्रीकॉशन डोज भी लगाया गया है।

(2) कोविड जॉच एवं उपचार- जिले में अबतक लगभग 9 लाख लागों के सैम्पल की जॉच की गयी है, जिसमें इस बर्ष लगभग 13500 लोग पॉजेटिव पाये गये, जिसमें से अबतक 12900 लागों को सफलतापूर्व ईलाज कर कोविड मुक्त किया गया है। शेष ईलाजरत है।
देवघर शहरी क्षेत्र में 05 कोविड जॉच केन्द्र कार्यशील है। साथ ही, बाबा मंदिर एवं शहर के भीड भाड़ वाले इलाके में टेस्टिंग की सुविधा सुलभ करायी गयी हेै। पूरे जिले में 40 टेस्टिंग टीम तैनात है। नियमित अंतराल पर Special Testing Drive भी करायी जा रही है, जिसकी क्षमता 5-10 हजार प्रतिदिन है। वर्त्तमान में जिला अंतर्गत कोविड टेस्ट रिपेार्ट चौबीस घंटे के अंदर सुलभ हो जा रहा है।

(3) कोविड-19 से संक्रमित मरीजों के ईलाज हेतु अब देवघर जिला के सदर अस्पताल में ऑक्सीजन उत्पादन संयत्र अधिष्ठापित किया किया गया है तथा लगभग सभी अस्पताल/प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों में ऑक्सीजन की सुविधा उपलब्ध करायी गयी है।
(4) देवघर जिले के शहरी क्षेत्र में 02 नया शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र क्रमशः कल्याणपुर एवं कुण्डा में आंरभ किया जा रहा है।

(5) सदर अस्पताल, देवघर में पी0पी0पी0 मोड में सिटि स्कैन की सुविधा आम जनता को उपलब्ध करायी जा रही है।

    देवघर जिला के वासियों से पुनः अनुरोध से इस वैश्विक महामारी के फलस्वरूप उत्पन्न विषम परिस्थितियों का धैर्यतापूर्वक संयम के साथ सामना करते हुए इसे हराने में जिला, राज्य एंव देश केा हर संभव सहयोग प्रदान करें। मास्क, सेनेटाईजर, सामाजिक दूरी के सिद्धान्त का पालन कर स्वंय स्वस्थ रहे तथा अपने परिवार को स्वस्थ्य रखें। साथ ही, इस महामारी के लिये टीकाकरण कार्यक्रम में सकारात्मक एवं सहयेागात्मक रूख अपना कर देवघर जिला/झारखण्ड राज्य सहित देश को इस महामारी से मुक्त करने में अपना अहम योगदान दें।  

■ जिला अंतर्गत विकास कार्यक्रम….
विगत एक वर्ष के दौरान माननीय मुख्यमंत्री के नेतृत्व में झारखण्ड सरकार के कारगर एवं प्रभावी कार्य योजना के फलस्वरूप राज्य को अभूतपूर्व उपलब्धियॉ हासिल हुई। माननीय मुख्यमंत्री (श्री हेमन्त सोरेन जी) के दूरगामी एवं अचूक पारदर्शी प्रयास से झारखण्ड राज्य निरंतर प्रगति के पथ पर गतिशील है – जो आने वाले समय में स्वर्णिम अक्षरों में लिखा जाएगा। आगे उन्होंने कहा कि राज्य सरकार के एक वर्ष पूर्ण होने के उपलक्ष्य में माननीय मुख्यमंत्री श्री हेमन्त सोरेन जी द्वारा देवघर जिले के लिये शिलान्यास, उद्घाटन एवं परिसम्पत्तियों का वितरण कर कई नई सौगात दी गयी है। ऐसे में हम सभी को चाहिए कि राज्य की बेहतरी में हम सभी भी अपना योगदान अवश्य करें। माननीय मुख्यमंत्री जी के प्राथमिकताओं के अनुरूप देवघर जिला प्रशासन जिलावासियों के बेहतरी के लिये लगातार प्रभावी तरीके से कार्यरत है। इस क्रम में झारखण्ड राज्य स्थापना दिवस (15 नवम्बर) तथा झारखण्ड सरकार के दो बर्ष पूर्ण होने की तिथि (29दिसम्बर) के दौरान राज्य सरकार के नीतिगत निर्णय के तहत एक महात्वाकांक्षी कार्यक्रम ‘‘आपके अधिकार- आपकी सरकार – आपके द्वार’’ सफलतापूर्वक सम्पन्न कराया गया है।

इसके अलावे माननीय मंत्री हफीजूल हसन ने कहा कि देवघर जिलान्तर्गत दिनांक 16.11.2021 से 28.12.2021 तक जिला प्रशासन द्वारा जिले के सभी पंचायतों में शिविर आयेाजित कर ग्रामीणों के आवश्यकता एवं समस्या से रूबरू होकर ग्रामीणों के आवश्यकतानुसार विभिन्न सरकारी येाजनाओं/ कार्यक्रमों (यथा आवास, कृषि, पेयजल, वन अधिकार, स्वास्थ्य एवं पेाषण, भमि सुधार, आजीविका, सेवा का गारंटी अधिनियम, झारखण्ड खाद्य सुरक्षा, पेंशन, 15 वित्त आयोग योजना मद, छात्रवृत्ति, शहरी स्थानीय निकास इत्यादि) के तहत आच्छादित करने हेतु कुल 1.72,688 आवेदन पत्र प्राप्त किया गया है, जिसमें से 1,49,407 आवेदनों का निष्पादन किया जा चुका है तथा 23,281 आवेदन निष्पादन के प्रक्रियाधीन है।

  1. ग्रामीण विकास:
    (प) महात्मा गॉंधी राष्ट्रीय ग्रामीण रेाजगार गारंटी येाजना:- (क) इस वित्तीय वर्ष 2021-22 के दौरान देवघर जिले के अंतर्गत अबतक लगभग 131.00 करेाड़ रूपये व्यय कर 131529 परिवारों को रोजगार के अवसर प्रदान किये गये है तथा इसके माध्यम से लगभग 59 लाख मानव दिवस का सृजन किया गया है। इस वित्तीय बर्ष कें अबतक 24130 योजनाऐं पूर्ण की जा चकी है तथा वर्त्तमान में 66109 योजनाऐं कार्यशील/ निर्माणाधीन है। मुख्यमंत्री पशुधन योजना अंतर्गत अभिषरण के तहत पशु शेड का निर्माण भी कराया जा रहा है।
    मनरेगा-श्रमिकों के मजदूरी भुगतान की प्रक्रिया में पारदर्शिता बरतते हुए विभागीय निर्देश/मापदण्ड के अनुरूप PFMS माध्यम से मजदूरी का भुगतान मजदूरों के बैंक खाते में किया जा रहा है। साथ ही, कार्यान्वित करायी जा रही योजनाओं में पारदर्शिता बरतने हेतु तीन चरणों में Geo Tagging किया गया है।
    (ख) मनरेगा के तहत झारखण्ड सरकार की अति-महत्वाकांक्षी योजना (बिरसा हरित ग्राम योजना) के अंतर्गत कृषक लाभुक के भूमि पर फलदार वृक्षारोपण का कार्य कराया गया है।

(पप) प्रधानमंत्री आवास योजना-ग्रामीण:- इस योजना के तहत देवघर जिले को वर्ष 2016-21 के लिये निर्धारित लक्ष्य 60151 के विरूद्ध अबतक 44733 आवास का निर्माण कार्य पूर्ण करा लिया गया है। इस कार्य हेतु कुल आंवटित राशि मो0 72181.20 लाख रू0 के विरूद्ध मो0 53679.60 लाख रू0 आवास निर्माण हेतु लाभुकों को हस्तान्तरित किया गया है। शेष कार्य प्रगति में है तथा पूर्णता हेतु युद्ध स्तर पर कार्य जारी है।
वित्तीय वर्ष 2021-22 के लिये निर्धारित लक्ष्य 19589 के विरूद्ध नियमानुसार कार्रवाई करते हुए स्वीकृति की प्रक्रिया जारी है। अद्यतन 359 आवासों को पूर्ण भी करा लिया गया है।

 बाबा साहेब भीमराव अम्बेदकर आवास येाजनाः- वित्तीय बर्ष  2016-21 के लिये प्राप्त लक्ष्य 1019 के विरूद्ध 948 आवास का निर्माण कार्य पूर्ण कराया लिया गया है। इस कार्य हेतु कुल आंवटित राशि मो0 1222.80 लाख रूपये क विरूद्ध 1137.60 लाख रू0 आवास निर्माण हेतु लाभुकों के खाता में हस्तान्तरित किया गया है। शेष कार्य प्रगति में है। 
    इस येाजना के तहत बर्ष 2021-22 के लिए प्रापत लक्ष्य 185 के विरूद्ध स्वीकृति प्रदान करते हुए कार्य आंरभ कराया जा चुका है तथा वर्त्तमान में 62 आवास का निर्माण कार्य पूर्ण कर लिया गया है।

(पपप) जे0एस0एल0पी0एसः-
ग्रामीण विकास विभाग,झारखण्ड सरकार के द्वारा संचालित झारखण्ड स्टेट लाईवलीहुड प्रोमेाशन सोसाईटी के द्वारा अबतक देवघर जिला के सभी दस प्रखण्डां के 194 पंचायतों के अंतर्गत कुल 10985 सखी मण्डलों का गठन किया गया है। जिसके अंतर्गत कुल 1,33,231 गरीब परिवारों की महिलाऐं जुडकर महिला सशक्तिकरण एवं आत्मनिर्भर करने हेतु कदम बढाया गया है। कुल 844 ग्राम संगठनों का गठन अबतक हो चुका है। साथ ही, 40 संकुल स्तरीय संगठनों का गठन भी अबतक हो चुका है। 9372 सखी मण्डलों का बैंक खाता खोला जा चुका है एवं 9084 सखी मण्डलों को चक्रिय निधि की राशि प्राप्त हो चुकी है। 1926 सखी मण्डलों को बैंक लिंकेज से लाभान्वित किया गया है। इस प्रकार सखी मण्डलों से जुडकर महिलाऐं आत्मनिर्भर बनते हुए सशक्तिकरण से समृद्धि की ओर निरंतर आगे बढ़ रही है। आजीविका क्षेत्र में कदम बढाते हुए महिलाओं के द्वारा जैविक ख्ेाती की भी शुरूआत दो प्रखण्डों में किया जा चुका है।
वैसे दीदीयों, जो दारू हडिया बनाकर बेचती थी, उन्हें फूलो झानो आर्शीवाद अभियान के आच्छादित कर आजीविका के मुख्य से ध्यारा से जोडकर लाभान्वित किया गया है।
जिले में सखी मण्डलों के द्वारा उडान परियोजना अंतर्गत पालाजोरी प्रखण्ड में 295 च्टज्ळ समुदाय हेतु 03 पाठशाला की शुरूआत की गयी है ताकि लॉकडान के दौरान भी बच्चों की पढाई बाधिक नहीं हो ।
देवघर जिला में DDU-GKY येाजना अतर्गत 720 बच्चों को सफलतापूर्वक प्रशिक्षण एंव Placement किया गया है। साथ ही, नॉन-फार्म येाजना अंतर्गत जिले में सखी मण्डलों के उत्पदों को पलाश र्माअ एवं देवघर मार्ट के जरिये विक्री कर आजीविका को बढ़ावा दिया जा रहा है।
इस जिला में अबतक 10985 सखी मण्डल के दीदीयों का PMSBY एवं 93462 दीदीयों का PMJJY एवं 4245 दीदीयां को APY किया जा चुका है, जो सामाजिक सुरक्षा के दृष्टिकोण से एक बहुत ही महत्वपूर्ण उपलब्धि है।
(पअ) स्वनियोजन कार्यक्रमः-

(क) किसान क्रेडिट कार्डः- इस कार्यक्रम के तहत अबतक 97340 किसानों का 441.62 लाख रू0 किसान क्रेडिट कार्ड के माध्यम से ऋण वितरित किया गया है।
   वित्तीय बर्ष 2021-22 के दौरान 12755 किसानों को मो0 127 करेाड़ रू0 से ज्यादे का ऋण दिया गया है।

(ख) प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम (PMEGP)ः- इस येाजना के तहत जिले क 366 बेरेाजगार युवा/युवतियों को मोे0 18 करोड़ रू0 से ज्यादे ऋण मुहैया कराकर स्वरेाजगार के अवसर दिये गये है।

(ग) दीन दयाल अन्त्योदय योजना-राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन (NRLM)ः- वित्तीय बर्ष 2021-22 में जे0एस0एल0पी0एस0 के 1551 समूह को करीब 77.55 करोड रूपये का ऋण स्वीकृत किया गया है।

(घ) प्रधानमंत्री स्वनिधि येाजना (PMSavnidhi)ः- कोविड-19 के दौरान फुटपाथ विक्रेताओं को आर्थिक सहायता प्रदान करने के लिये चलाई गयी इस येाजना के तहत 1452 स्ट्रीट वेंडार को 10,000/-रू0 की दर से कुल 01 करेाड 45 लाख रू0 का ऋण दिया गया है।

(च) प्रधानमंत्री जन धन योजना:- इस योजना के हत जिले में कुल 8,89,290 खाता खोला गया है, जिसमें महिला खाताधारी की संख्या 4,88,904  तथा  पुरूष खाताधारी की संख्या 4,00,386 है तथा इन खातों में करीब 285 करेाड़ की रकम जमा है।
(छ) सामाजिक सुरक्षा स्कीम:- 
    इस स्कीम के तहत निम्नलिखित स्कीम में निम्न खाता खोला गया हैः-

    प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना -   3,68,158
     प्रधानमंत्री जीवन ज्योति योजना -   1,02,680
    अटल पेंशन योजना          -   60,847

(अ) प्रखण्ड भवन

 देवघर जिलान्तर्गत पॉंच प्रखण्ड (मोहनपुर, सारठ, पालोजोरी, मधुपुर एवं करौं) के लिये मो0 367.594 लाख रू0 प्राक्कलित राशि(प्रति भवन) के अनुरूप सभी आधारभूत सुविधा युक्त नये प्रखण्ड-सह-अंचल कार्यालय भवन का निर्माण कार्य पूर्ण कराया जा चुका है, जिसे व्यवहार में लाया जा रहा है। नये भवन निर्माण से प्रखण्ड/अंचल से संबंधित कार्य के सम्पादन में सुविधा हो रही है एवं इससे आम गा्रमीण को भी सुविधा मिल रही है।
   साथ ही, देवघर जिलान्तर्गत 03 प्रखण्ड (करौं, सारठ एवं पालोजेारी) में प्रखण्ड विकास पदाधिकारी-सह-अंचल अधिकारी, पर्यवेक्षक, तृतीय-चतुर्थ वर्गीय कर्मी के आवासन हेतु प्रति प्रखण्ड मो0 464.685 लाख रूपये लागत से आवासीय भवन निर्माण की स्वीकृति राज्य सरकार से प्राप्त हुआ है, जिसका कार्य प्रगति में है।
  1. पर्यटन, कला-संस्कृति, खेलकूद एवं अन्यः-
    (क) देवघर जिलान्तर्गत सारवॉं, मधुपुर एवं देवीपुर के लिये प्रखण्ड स्तरीय स्टेडियम का निर्माण की स्वीकृति
    मो0 109.44 लाख (प्रति स्टेडियम) की स्वीकृति विभाग से प्राप्त हुई है। इन तीनों प्रखण्ड स्तरीय स्टेडियम का निर्माण कार्य भौतिक रूप से पूर्ण कराया जा चुका है।
    मो0 177.42 लाख रू0 लागत पर मधुपुर इण्डोर स्टेडियम का निर्माण कराया जा रहा है। (ख) देवघर जिलान्तर्गत चिन्ह्ति महत्वपूर्ण पर्यटन/दार्शनिक स्थल (नंदन पहाड, तपोवन-पहाड़, त्रिकुट पहाड, बुढई पहाड, हरिलाजोरी, तुतरापहाड-सारवॉ, पथरौल, चोलपहाडी, डकाय दुबे बाबा मंदिर परिसर, सिकटिया-बराज, तालझारी-दुर्गामंदिर स्थल, कुकराहा दुर्गा मंदिर स्थल,गंजोबारी-नायक धाम, कर्णेश्वरधाम, टिकोपहाडी, बकुलिया झरना इत्यादि) को विकसित करनेे एवं आकर्षक बनाने हेतु वर्ष 2016-17 से 2021-22, के लिये प्राप्त विभागीय आवंटन से स्थानीय आवश्यकता आधारित संरचना का निर्माण कराया गया है।
  2. सामाजिक सुरक्षाः-
    इंदिरा गाँधी राष्ट्रीय वृद्धा पेंशन के तहत् 39839 लाभुक, इंदिरा गाँधी राष्ट्रीय विधवा पेंशन के तहत 9522 लाभुक, इंदिरा गाँधी राष्ट्रीय दिव्यांग पेंशन के तहत् 1740 लाभुक, मुख्यमंत्री राज्य सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजना के तहत् 40047 लाभुक, मुख्यमंत्री राज्य निराश्रित महिला सम्मान पेंशन योजना के तहत 12465 लाभुक, मुख्यमंत्री आदिम जन जाति पेंशन के तहत 897 लाभुक मुख्यमंत्री एच0आई0वी0 एड्स पीड़ित पेंशन के तहत 50 लाभुक, तथा स्वामी विवेकानंद निःशक्त स्वावलंबन पेशन योजना के तहत कुल 15022 (कुल 119582 लाभुक) को आच्छादित करते हुए लाभान्वित किया जा रहा है।
    इसके अतिरिक्त राष्ट्रीय परिवार हित लाभ येाजना के तहत 105 लाभुकों को आच्छादित किया गया है। इस येाजना के तहत प्रति लाभुक एकमुश्त मो0 20,000/-रू0 के दर से भुगतान किया गया है।
    साथ ही, बर्ष 2021-22 के दौरान 57000 जरूरतमंद निर्धन व्यक्तियों को ठण्ड से सुरक्षा हेतु कम्बल वितरित किया गया है।
  3. एम्स एवं एयरपेार्टः-
    (क) देवघर जिलान्तर्गत बहुुप्रतीक्षित एम्स का निर्माण कार्य पूर्ण होने के उपरंात ओ0पी0डी0 आंरभ किया जा चुका है।
    इसी क्रम में बर्ष 2019 सेें एम्स के नियंत्रणाधीन एम0बी0बी0एस0 के शैक्षणिक सत्र का आरम्भ स्थानीय पंचायत प्रशिक्षण संस्थान,डाबरग्राम,जसीडीह में किया जा रहा है।
    (ख) देवघर जिलान्तर्गत एयरपेार्ट के निर्माण का कार्य पूर्णता की स्थिति में है।
  4. कल्याण:-
    ’’ प्री-मैट्रिक छात्रवृत्तिः- वित्तीय बर्ष 2021-22 में वर्ग 1 से 10 तक के कुल 72,268 छात्रों को क्ठज्ध्च्थ्डै के माध्यम से प्री मैट्रिक छात्रवृत्ति के रूप में मो0 940.84 लाख रू0 का भ्ुागतान किया गया है। ’’ साईकिल वितरण योजनाः- वित्तीय बर्ष 2021-22 के दौरान इस येाजना के तहत अष्टम वर्ग में अध्ययनरत अनु0जाति/अनु0ज0ज0, पिछडी जाति एवं अल्पसंख्यक समुदाय के कुल 22673 छात्रों को सरकार द्वारा सीधे साईकिल मुहैया कराने की कार्रवाई की जा रही है।
    ’’ चिकित्सा अनुदान योजनाः- वित्तीय वर्ष 2021-22 में कुल 216 असाध्य रेाग, दुर्धटना में घायल एवं गंभीर बिमारी इत्यादि से पीड़ित अनु0जाति/अनु0ज0ज0, एवं पिछडी जाति के व्यक्ति (जो गरीबी रेखा से नीचे जीवन बसर कर रहे है) को लाभान्वित किया गया हैं
    ’’ अनु0जाति/जनजाति अत्याचार निवारणः- अनु0जा0/अनु0ज0ज0 अत्याचार अधिनियम 1989 के संशेाधित नियम-2016 के तहत वित्तीय बर्ष 2021-22 में कुल 32 लाभुकों को आच्छादित किया गया है।
    ’’ वन अधिकार अधिनियम,2006ः- वनों मे निवास करने वाले अनु0जनजाति/आदिम जनजाति परिवार के कुल 124 येाग्य पाये गये लाभुकों को जंगल भमि पर खेती एवं आवासयी कार्य हेतु पट्टा वितरित किया गया है।
  5. आपूर्त्तिः- ’’ देवघर जिलान्तर्गत कुल 2,14,450 पूर्विक्ता प्राप्त गृहस्थ परिवार (PHH) राशन कार्ड के माध्यम से कुल 11,24,602 सदस्यों/व्यक्तियों को प्रति सदस्य 5 कि0ग्रा0 अनाज मात्र 1/-रू0 प्रति किलोग्राम की दर से प्रति माह उपलब्ध कराया जा रहा है।

’’ प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्य येाजना के तहत कुल 2,14,450 पूर्विक्ता प्राप्त गृहस्थ परिवार (PHH) राशन कार्ड के माध्यम से कुल 11,24,602 सदस्यों/व्यक्तियों को प्रति सदस्य 5 कि0ग्रा0 अनाज निःशुल्क (माह-अप्रैल,2020 से नवम्बर,2020 तक) उपलब्ध कराया गया है।

’’ देवघर जिला अंतर्गत कुल 15,292 अन्त्योदय पविारों को राशन कार्ड के माध्यम से कुल 67,206 सदस्यों को प्रति राशन कार्ड 35 कि0ग्रा0 अनाज 1/-रू0 प्रति कि0ग्रा0 की दर से प्रतिमाह उपलब्ध कराया जा रहा है।

’’ प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत कुल 15,292 अन्त्योदय पविारों को राशन कार्ड के माध्यम से कुल 67,206 सदस्यों को प्रति राशन कार्ड 5 कि0ग्रा0 अनाज निःशुल्क उपलब्ध कराया जा रहा है।

’’ झारखण्ड राज्य खाद्य सुरक्षा येाजना के तहत 20,721 राशनकार्ड के माध्यम से कुल 65,819 सदस्यों को प्रति सदस्य 5 कि0ग्रा0 अनाज मो0 1/-रू0 प्रति किलो के दर से उपलब्ध कराया जा रहा है।

’’ सोना सेाबरन धोती साड़ी याजना के प्रथम खेप के तहत 2,13,464 राशनकार्ड धारियों को धोती-साड़ी-लुंगी उपलब्ध कराया जा रहा है।
’’ सोना सेाबरन धोती साड़ी याजना के द्वितीय खेप के तहत 2,49,789 राशनकार्ड धारियों के धोती-साड़ी-लुंगी प्राप्त हो चुका है एवं इसे लाभुकों को उपलब्ध कराया जा रहा है।

’’ जिलान्तर्गत कुल 669 आदिम जनजाति पहाडिया परिवारों को 35कि0ग्रा0 अनाज प्रतिमाह डाकिया येाजना के तहत प्रखण्ड आपूर्त्ति पदाधिकारी के माध्यम से उनके घरों तक खाद्यान्न पहुॅचाया जा रहा है।

’’ जिलान्तर्गत कुल 14 दाल भात केन्द्रों के माध्यम से मुख्यमंत्री कैंन्टिन येाजना के तहत प्रतिदिन भेाजन की व्यवस्था की गयी है।

’’ जिलान्तर्गत खरीफ विपणन मौसम 2020-21 के तहत कुल 3929 किसानों से 1,96,749 क्वी0ध्यान की खरीददारी की गयी है, जिसके भ्ुागतान की प्रक्रिया पूर्ण हो चुकी है।
इस वित्तीय बर्ष 2021-22 के दौरान कुल 3,20,000 क्वी0 लक्ष्य के विरूद्ध धान खरीददारी 15 दिसम्बर,2021 से आंरभ की गयी हे। अबतक 402 किसानेां से कुल 21,247 क्वी0 धान की खदीददारी की गयी है।

  1. नगर विकास:-
    (क) अमृत येाजना के तहत कुल 05 पार्केा का निर्माण एवं 14वें वित्त आयेाग के तहत 02 पार्को का निर्माण किया गया है। साथ ही, सेप्टेज प्रबंधन परियेाजना का निर्माण कार्य प्रगतिशील है। (ख) प्रधानमंत्री आवास येाजना-शहरी
    प्रधानमंत्री आवास येाजनान्तर्गत चतुर्थ घटक – व्यक्तिगत आवास येाजना के तहत 13573 बेघर परिवार को आवास निर्माण की स्वीकृति प्रदान की गयी है, जिसमंे से 7974 इकाई का कार्य पूर्ण किया जा चुका है। शेष 5599 निर्माणाधीन है।
    भागीदारी में किफायती आवास येाजना के तहत अबतक कुल 08 ब्लोकों में 620 आवास आंवटित किये गये है। (ग) अन्य विकास येाजनाः-
    . ’’ वित्तीय बर्ष 2020-21 मं 15वे वित्त आयेाग योजना मद (Untied Grant) से देवघर नगर निगम के 36 वार्डो में मो0 1135.79 लाख रूपये तथा बर्ष 2021-22 में मो0 2251.01 लाख रू0 लागत राशि से 38.40 कि0मी0 पी.सी.सी. रेाड एवं 32.04 कि0मी0 नाला का निर्माण, 03 वैंडिंग जोन का निर्माण, 01- कर्मस्थान का निर्माण एवं 01 ऑक्सीजन पार्क आदि का निर्माण कार्य कराया जा रहा है।
    ’’ मो0 90.01 लाख रू0 लागत राशि पर के0के0एन0 स्टेडियम का जीर्णोद्धार एवं सौन्दर्यीकरण कार्य किया जा रहा है।
    ’’ वित्तीय बर्ष में 15 वित्त आयेाग योजना मद के Tied Grant से कुल 398.59 लाख रू0 लागत राशि कीयेाजना स्वीकृत है।
    ’’ जुडको द्वारा किये जाने वालेे कार्यः-
    . 1. स्ेाप्टेज प्रबंधन येाजना .. लागत राशि मो. 39.41 करेाड़ (प्रगति 43 प्रतिशत)
    . 2. प्रधानमंत्री आवास येाजना (शहरी)-तृतीय घटक.. लागत राशि मो0 44.81 करेाड रू0 (प्रगति 20प्रतिशत)
    . 3. पेयजलापर्त्ति योजनाः- लागत राशि मो0 287.51 करेाड रू0 ( प्रगति 32 प्रतिशत)
    . 4. अर्न्तराज्यीय बस पड़ावः- .. लागत राशि मो0 41.84 करेाड रू0 (प्रगति 56 प्रतिशत)
    .
    . ’’ स्वच्छ भारत मिशन एवं ठोस अपशिष्ठ प्रबंधनः-
    . सब्जी मण्डी एवं पार्को मं गीला कचड़ा से खाद बनाने हेतु कम्पोष्ट मशीन अधिष्ठापित किया गया है।
    . स्टील लीटर बीन का अधिष्ठान महत्वपूर्ण स्थलों पर किया गया है।
    . शत-प्रतिशत डोर-टू-डोर कचड़ा उठाव एवं पृथ्थीकरण का कार्य प्रगति पर है।
    . पछियारी कोठिया ठोस अपशिष्ठ प्रबंधन प्लान्ठ से निकलनेवाले खाद का कृषि कार्य हेतु आस-पास के गॉवों में उपलब्ध कराया जा रहा है।
    . कोविड-19 के दौरान सेनेटराईजेशन कार्य, मास्क वितरण, प्म्ब् के तहत जागरूकता अभियान
    . प्रतिदिन फॉगिग कार्य- तीन मशीनों के द्वारा रेास्टर के अनुसार किया जा रहा है।
    . जलसार पार्क में 10 सीटर सार्वजनिक शौचालय का निर्माण।
  2. पेयजल एवं स्वच्छता:-
    (।) पेयजल एवं स्वच्छता प्रमण्डल,देवघर के अधीनः-,

(क) वृहत जलापूर्त्ति योजना के तहत कुशमील एवं आसन्न ग्रामीण जलापर्त्ति योजना (प्राक्कलित राशि मो0 813.03 लाख) में 1740 अदद गृह संयोजन का प्रावधान है, जिसके विरूद्ध 1337 अदद गृह संयेाजन का कार्य पूर्ण कर येाजना को चालू किया गया है।
सारवॉ एवं भण्डारो आसन्न ग्रामीण जलापूर्त्ति येाजना (प्राक्कलित राशि मो0 1294.646 लाख) में 2524 अदद गृह संयोजन का प्रावधान है, जिसका कार्य प्रगति में है।
देवीपुर एवं आसन्न ग्रामीण जलापूर्त्ति योजना (प्रखण्ड आच्छादन) प्रा0 राशि मो0 14384.05 लाख, में 26095 अदद गृह संयोजन का प्रावधान है। इस येाजना का कार्य प्रगति में है।

(ख) लघु ग्रामीण जलापूर्त्ति योजना अंतर्गत श्रश्रड के तहत कुल 35 अदद गॉवों में 67 अदद येाजना में 4000, 8000, 12000 एवं 16000 लीटर क्षमता वाले सोलर आधारित जलापूर्त्तियोजना है, जिसका समेकित कुल प्राक्कलित राशि मो0 904.43 लाख है। इन येाजनाओं में 3285 अदद गृृह संयोजन कार्य किया गया है। साथ ही, 29 अदद गॉवों में 71 अदद योजना में 2000, 8000 एवं 12000 लीटर क्षमता वाले सेालर आधारित जलापूर्त्ति योजना है, जिसका समेकित कुल प्राक्कलित राशि मो0 1072.175 लाख है। इन येाजनाओं में से 3795 अदद गृह संयोजन का कार्य किया गया है।
देवघर प्रमण्डल के अंतर्गत प्रति पंचायत 05 अदद चापानलों के अधिष्ठापन हेतु कुल 470 अदद चापानल अधिष्ठापन की स्वीकृति प्राप्त है जिसकी कुल स्वीकृत राशि मो0 355.01 लाख है। अबक 439 चापानल अधिष्ठापित किया गया है।

(ग) पेयजल एवं स्वच्छता संबंधित सामग्री:-
स्वच्छता से संबंधित:- देवघर िजला खुले से शौचमुक्त है। बेसलाईन सर्वे 2012 के आधार पर देवघर जिला में IMIS के अनुसार घरेलू व्यैक्तिक शौचालय से 182730 घरों को आच्छादित किया जा चुका है। SBM (G) Phase-II में ODF Plus गतिविधि के तहत परिस्थितिकीय रूप से सुरक्षित एवं स्थायी स्वच्छता एंव सुरक्षित स्वच्छता पद्यति को विकसित करने हेतु विभिन्न गतिविधियॉ स्वच्छ भारत मिशन-ग्रामीण-फेज-2 के तहत कार्यक्रम के रूप में चलाया जा रहा है।
स्वच्छ भारत मिशन(ग्रामीण) Phase-II AIP 2021-22 के तहत 193 ग्रामों में ODF Plus का कार्य किया जा रहा है।
स्वच्छ भारत मिशन(ग्रामीण) Phase-II AIP 2021-22 के तहत 1556 अदद नया शौचालय का मिर्नाण कराया जा रहा है।
जिला के सभी 10 प्रखण्डों SLWM के तहत एक-एक मॉडल पंचायत को चिन्ह्ति कर कार्य किया जा रहा है, जिसमें सॉक-पीट निर्माण, नाडेप पीट का निर्माण, प्लास्टिक कचरा प्रबंधन, महावारी स्वच्छता प्रबंधन पर कार्य किया जा रहा है।
जिला के देवीपुर प्रखण्ड के जीतजोरी पंचायत में दो अदद गॉव को गोबर्धन योजना के तहत आच्छादित कर कार्य किया जा रहा है।

(ठ) पेयजल एवं स्वच्छता प्रमण्डल,मधुपुर के अधीनः-
(क) JJM अतर्गत सम्पूर्ण पालोजेारी प्रखण्ड में वृहत पाईप ग्रामीण जलापूर्त्ति योजना (क्षमता 34 MLD) का कार्य प्रगति में है। ( जलश्रोत- सिकटिया बराज)
करौं वृहत ग्रामीण पाईप जलापूर्त्ति योजना (क्षमता 13 MLD) का कार्य प्रगति में है।(जलश्रोत- सिकटिया बराज)
लक्षणाडीह ग्रामीण पाईप जलापूर्त्तियेाजना (क्षमता 1 MLD) का कार्यप्रगति में है ।(जलश्रोत-पतरो नदी)
सारठ वृहत ग्रामीण पाईप जलापूर्त्ति योजना (क्षमता 12 MLD) का कार्य निविदा प्रक्रिया में है (जलश्रोत- कसटिया बराज)

(ख) MSDP अतर्गत दलहा ग्रामीण पाईप जलापूर्त्ति योजना (क्षमता 1.5 MLD) का कार्य पगति में है। (जलश्रोत- पतरो नदी)

माननीय मंत्री ने स्वतंत्रता सैनानियों व उनके परिजनों के साथ जिले के कोरोना वरियर्स व बच्चों को किया गया सम्मानित…..
कार्यक्रम के दौरान माननीय मंत्री हफ़ीजूल हसन जी द्वारा जिले के स्वतंत्रता सैनानियों व उनके परिजनों को सॉल व पुस्पगुच्छ देकर सम्मानित किया गया। इसके अलावा दसवीं एवं बारहवीं में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले छात्र-छात्राओं को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया। साथ हीं कोरोना वॉरियर्स के रूप में पुलिस पदाधिकारियों व कर्मियों, नगर निगम के सफाईकर्मी, स्वास्थ्य कर्मी एवं विभिन्न समाजसेवी संस्थाओं को सम्मानित किया गया।

इस दौरान उपरोक्त के अलावे उपायुक्त सह जिला दण्डाधिकार मंजूनाथ भजंत्री, पुलिस अधीक्षक श धनंजय कुमार सिंह, उप विकास आयुक्त संजय सिन्हा, नगर आयुक्त शैलेन्द्र कुमार लाल, डीआरडीए निदेशक नयन तारा केरकेटटा, अनुमंडल पदाधिकारी दिनेश कुमार यादव, अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी पवन कुमार, जिला जनसम्पर्क पदाधिकारी रवि कुमार, जिला नजारत उप समाहर्ता परमेश्वर मुण्डा, जिला आपूर्ति पदाधिकारी मीनाक्षी भगत, जिला शिक्षा पदाधिकारी बिना कुमारी, जिला खेल पदाधिकारी राजेश चौधरी, सहायक जनसम्पर्क पदाधिकारी रोहित कुमार विद्यार्थी एवं संबंधित विभाग के अधिकारी व कर्मी आदि उपस्थित थे।

कोरोना गाइड लाइन के तहत् धूमधाम से 73 वां गणतंत्र दिवस मनाया गया

उत्क्रमित मध्य विद्यालय, गरीबखील के प्रांगण में देश के महान पर्व 73वां गणतंत्र दिवस के शुभ अवसर पर प्रधानाध्यापक अभिलाष कुमार के नेतृत्व में झंडोतोलन किया गया ।इस झंडोतोलन में मुख्य अतिथी के रूप में लोक जन शक्ति पार्टी (R)के देवघर जिला के वरिष्ठ नेता लाल मणि झा , प्रदेश महासचिव सह देवघर जिला प्रभारी आशुतोष मिश्रा एवं जिला उपाध्यक्ष टाइगर रमेश सिंह उपस्थित हुए ।जिसमें कि झंडोतोलन लोजपा के वरिष्ठ नेता लाल मणि झा के द्वारा राष्ट्रीय गान के साथ किया गया ।विद्यालय के सभी शिक्षक सचिन कुमार मिश्रा, तेजस्वी कुमार, कैलाश पंडित ,शिक्षिका गायत्री देवी एवं कल्पना देवी के साथ विद्यालय प्रबंधन समिति के अध्यक्ष मदन मंडल एवं सोनू यादव सदस्य वासुदेव राय ,राम चन्द्र यादव, संजीव मोदी, जय राम यादव के साथ विद्यालय के छात्र आर्यन कुमार झा, सागर झा,निशा कुमारी, साधना कुमारी, प्रिन्स कुमार सबों के द्वारा कोरोना गाइड लाइन के तहत् धूमधाम से 73 वां गणतंत्र दिवस मनाया गया एवं सभी बच्चों के बीच मिठाई, सेव बून्दिया ,जलेबी का वितरण किया गया ।

Search Khabar [ सच का सर्च सच के साथ,सर्च खबर आपके पास ]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Become a Journalist
Feedback/Query