मनिहारी घाट के बीच गंगा नदी में पलट गया मालवाहक जहाज,गंगा में गिर गए पांच ट्रक ,ड्राइवर-खलासी लापता

साहिबगंज : झारखंड के साहिबगंज और बिहार के कटिहार जिले के मनिहारी घाट के बीच गंगा नदी में स्टोन के ट्रकों से भरे जहाज का बैलेंस बिगड़ गया। जहाज पर करीब 14 ट्रकों में स्टोन (पत्थर) लोड था। इसके साथ ही सभी ट्रकों के ड्राइवर और हेल्पर भी इसमें सवार थे। हादसे में जहाज के स्टाफ के साथ ट्रकों के ड्राइवर-खलासी सहित 10 लोगों की आशंका जताई जा रही थी। जहाज प्रबंधन का कहना है कि 8 लोगों ने तैरकर अपनी जान बचाई है। वो लौट आए हैं। 2 लोग अब भी लापता हैं। जहाज साहिबगंज से मनिहारी की तरफ जा रहा था।झारखंड के साहिबगंज और बिहार के कटिहार जिले के मनिहारी घाट के बीच गंगा नदी में एक मालवाहक जहाज पलट गया। जहाज पर 14 स्टोन लोड ट्रक सवार थे। इसके साथ ही ट्रकों के ड्राइवर और खलासी भी सवार थे। जहाज साहिबगंज से बिहार के कटिहार जिले के मनिहारी घाट की तरफ जा रहा था। गंगा में जहाज अनियंत्रित हो गया। पांच ट्रक जहाज से गंगा में गिर गए। जबकि नाै ट्रक जहाज पर ही पलट गए। ट्रक और खलासियों के बाबत जानकारी नहीं मिल पाई है। 

रात में हुआ हादसा

झारखंड के साहिबगंज के बिहार के कटिहार की तरफ मालवाहक जहाजों से स्टोन चिप्स ( पत्थर) भेजा जाता है। गुरुवार की रात साहिबगंज घाट से करीब एक दर्जन लोड ट्रकों के साथ जहाज बिहार की तरफ रवाना हुआ। अनियंत्रित होकर बीच नदी में पलट गया। इसकी जानकारी मिलने के बाद इधर साहिबगंज और उधर कटिहार प्रशासन सकते में आ गया। साहिबगंज के उपायुक्त रामनिवास यादव और एसपी ने नाव पर सवार होकर हादसे का जायजा लिया।

ट्रक का टायर फटने से हादसा
जहाज में सवार कैप्टन अमर चौधरी ने बताया कि जहाज पर कुल 14 ट्रक लोड थे। एक ट्रक का टायर फट गया। इस कारण वह अनियंत्रित होकर नदी के बीच धार में गिर गया इसके साथ ही 4 और ट्रक गिर गए। बाकी बचे ट्रकों को लेकर जहाज किनारे पर पहुंचा। 9 ट्रक जहाज पर पलट गए हैं, जबकि 5 ट्रक गंगा के बीच धार में डूबे हुए हैं। ट्रकों की तलाश और लापता लोगों के लिए NDRF की टीम को बुलाया गया है।

एनडीआरएफ से मांगी गई मदद

हादसे की सूचना मिलने के बाद बचाव और राहत के लिए साहिबगंज प्रशासन सक्रिय है। NDRF से मदद मांगी गई है। देवघर से NDRF की एक टीम साहिबगंज के लिए रवाना हो चुकी है। हादसे में लापरवाही भी नजर आ रही है। प्रशासन की ओर से घाट पर पुलिस चौकी बनाई गई है। यह आने-जाने वाले मालवाहक जहाजों की निगरानी करते हैं। जांच के लिए अलग से कोई व्यवस्था नहीं है।

2020 में राजमहल से पश्चिम बंगाल के मानिकचक जा रहा जहाज अनियंत्रित होकर पलट गया था। कई ट्रक गंगा में समा गए थे। कई लोगों की मौत भी हुई थी। इससे पहले 2018 में समदा में एक जहाज पलट गया था जिसमें भी कई लोगों की मौत हुई थी।

बीच गंगा में जहाज में आई थी खराबी
उपायुक्त रामनिवास यादव ने बताया कि कल दोपहर ये जहाज रवाना हुआ था। नदी के अंदर कुछ दूर जाने पर इसमें खराबी आई। जहाज में मौजूद लोगों ने इसे ठीक किया। इसके बाद बैलेंस बिगड़ने से 5 ट्रक नदी में गिर गए। लापता लोगों की तलाश जारी है। इस हादसे की जांच करवाई जाएगी। ताकि भविष्य में इस तरह का हादसा ना हो।

ऐसे हुआ हादसा

बताया जाता है कि जहाज पर लदा एक ट्रक अनियंत्रित होकर नदी में गिर गया। इस वजह से जहाज का संतुलन बिगड़ गया और जहाज अनियंत्रित हो गया। जहाज से पांच ट्रक गंगा में गिर गए। जहाज पर खड़े 9 ट्रक पलट गए। ड्राइवर-खलासियों के गायब होने की बात सामने आ रही है।

यहां होते रहते हादसे

2020 में राजमहल से पश्चिम बंगाल के मानिकचक जा रहा जहाज अनियंत्रित होकर पलट गया था। कई ट्रक गंगा में समा गये थे। कई लोगों की मौत भी हुई थी। इससे पूर्व 2018 में समदा में एक जहाज पलट गया था जिसमें भी कई लोगों की मौत हुई थी।

 

Search Khabar [ सच का सर्च सच के साथ,सर्च खबर आपके पास ]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Become a Journalist
Feedback/Query