जमीन पैमाइश में विवाद को रोकने के लिए ईटीएस मशीन का उपयोग

भागलपुर : भागलपुर जिले में जमीन का सर्वे जल्द शुरू होगा। जमीन पैमाइश में विवाद को रोकने के लिए अब ईटीएस (इलेक्ट्रॉनिक टोटल स्टेशन) मशीन का उपयोग किया जाएगा। अब जरीब चेन की जगह ईटीएस मशीन लेगी। इसकी शुरूआत भागलपुर जिले में भी कर दी गयी। इसके लिए जिला प्रशासन ने आठ मशीनों की खरीद की है। गुरुवार को तीन अनुमंडल, चार अंचल और एक राजस्व शाखा को मशीन सौंप दी गयी। डीएम को भी मशीन के बारे में जानकारी दी गयी। 

जिला प्रशासन ने 48 लाख रुपये में आठ ईटीएस मशीन की खरीद की गयी है। गुरुवार को एक राजस्व शाखा के अलावा भागलपुर सदर, नवगछिया, कहलगांव अनुमंडल और नारायणपुर, गोपालपुर, सुल्तानगंज और पीरपैंती अंचल को दिया गया है। अपर समाहर्ता राजेश झा राजा ने बताया कि जैम पोर्टल के माध्यम से मशीन की खरीद की गयी है। जिले को 48 लाख रुपये आवंटन मिला था। 

अगले वित्तीय वर्ष में आवंटन मिलने के बाद मशीन की खरीद कर बचे अंचलों को दिया जाएगा। इससे जमीन की पैमाइश में एक सेमी का भी फर्क नहीं पड़ेगा। पैमाइश में भी तेजी आएगी। कंपनी के तकनीकी विशेषज्ञों द्वारा तीन दिन तक सभी सीओ, डीसीएलआर और राजस्व अधिकारी को प्रशिक्षण दिया गया है। गुरुवार को ट्रायल के तौर पर रक्शाडीह में जमीन की पैमाइश की गयी। पैमाइश के दौरान मशीन ने बेहतर काम किया। बिहार में जमीन से जुड़े विवाद बेहद आम बात है। इस समस्या का समाधान करने के लिए सरकार ने जमीन मापी के तरीके को बदलने का फैसला किया है। यह व्यवस्था जल्द ही पूरे जिले में लागू कर दी जाएगी।

Search Khabar [ सच का सर्च सच के साथ,सर्च खबर आपके पास ]

One thought on “जमीन पैमाइश में विवाद को रोकने के लिए ईटीएस मशीन का उपयोग

  • Pingback:जमीन पैमाइश में विवाद को रोकने के लिए ईटीएस मशीन का उपयोग - News-Makrant

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Become a Journalist
Feedback/Query